English
मुख्य विशयवस्तु में जाएं
ISRO logo Prof U R Rao Header part Dr. Vikram Sarabhai National emblem

फ्लैश न्यूजः : जो छात्र जनवरी-जून 2025 के बीच यूआरएससी में इंटर्नशिप के अवसरों का लाभ उठाना चाहते हैं, उनके लिए पोर्टल 1 दिसंबर 2024 को 10ः00 बजे फिर से खुलेगा।         ▶ सूचना: विज्ञा. सं..URSC:ISTRAC:01:2024 दिनांक 10.02.2024         ▶ यू.आर.एस.सी. को एन.टी.आर.पी. (भारतकोश) के माध्यम से गैर-कर रसीद के प्रेषण का कार्यान्वयन         ▶ GSLV-F14/INSAT-3DS मिशनःवाहन ने सफलतापूर्वक लक्षित भूतुल्यकाली अंतरण कक्षा में उपग्रह को स्थापित किया ।         ▶ एक्स-रे स्पेक्ट्रोस्कोपी और टाइमिंग पेलोड एक्सस्पेक्ट ऑनबोर्ड एक्सपोसैट         ▶ आदित्य-एल1 का हेलो-कक्षा सम्मिलन सफलतापूर्वक पूरा हुआ         ▶ एक्सपोसैट उपग्रह सफलतापूर्वक प्रक्षेपण किया गया            गुणता नीति : अंतरिक्ष प्रणालियों तथा सेवाऒ में संपूर्ण गुणता एवं शून्य दोष के लिए प्रतिबद्ध



यू.आर.यस.सी के बारे मेंAbout URSCडॉ. विक्रम ए साराभाई द्वारा स्थापित भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम अनुप्रयोग चालित है। "भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम का मौलिक सिद्धांत आम आदमी और समाज को लाभ पहुँचाना है।"

यू.आर.एस.सी. जो भारतीय उपग्रहों का घर है, द्वारा चार दशकों में निर्मित 100 से अधिक अत्याधुनिक उपग्रह, केंद्र द्वारा प्राप्त तकनीकी उत्कृष्टता का प्रमाण देता है। करीब 2500 उच्च प्रशिक्षित और सक्षम मानव संसाधन के साथ यू.आर.एस.सी. आज उन्नत, आधुनिकतम उपग्रह तकनीकियों से सुसज्जित है जो भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम को पोषित करता है।.  ... आगे ...

Shri M Sankaran श्री एम. शंकरन
निदेशक


श्री एम. शंकरन भारतीय अंतरिक्ष संगठन (इसरो) के एक विशिष्ठ वैज्ञानिक हैं।

उन्होंने 01 जून 2021 को यू.आर.राव उपग्रह केंद्र (यू.आर.एस.सी), जो इसरो के सभी उपग्रहों के अभिकल्प, विकास एवं प्रापण हेतु देश का अग्रणी केंद्र है, के निदेशक के रुप में कार्यभार ग्रहण किया। वे संप्रति संचार, नौवहन, सुदूर संवेदन, मौसम विज्ञान एवं अंतर ग्रहीय अन्वेषण जैसे क्षेत्रों में राष्ट्र की बढती हुई मांगों को पूरा करने के लिए विभिन्न प्रकार के उपग्रहों के निर्माण हेतु इसरो के उपग्रह समुदाय का नेतृत्व कर रहे हैं।



अधिक ...
News   इसरो प्रापण लाइव रजिस्टर

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) भारत सरकार ‘इसरो प्रापण लाइव रजिस्टर’ में घोषित सामग्रियों का आयात प्रतिस्थापित उपयुक्त उत्पादकों के लिए इच्छुक भारतीय औद्योगिक व व्यवसाय गृहों से इच्छा अभिव्यक्ति आमंत्रित करते है। इच्छा की अभिव्यक्ति के लिए यहाँ क्लिक करें।