English
मुख्य विशयवस्तु में जाएं
Prof U R Rao Dr. Vikram Sarabhai
मुखपृष्ठ : हमारे बारे में : यू.आर.एस.सी. का काम Last updated on: 06-Feb-2019

यू.आर.एस.सी. का काम

  • यू.आर.एस.सी. का मुख्य काम है विभिन्न प्रकार के उपग्रहों जैसे संचार, भू-प्रेक्षण, नौवहन और अंतरिक्ष विज्ञान उपग्रहों का अभिकल्प, विकास, समाकलन और परीक्षण।
  • केंद्र अंतरिक्षयान की संकल्पना से लेकर कक्षा में अंतरिक्षयान के प्रचालनात्मक स्तर तक पूरी परियोजना प्रबंधन के लिए जिम्मेदार है।
  • प्रगतिशील अत्याधुनिक उपग्रह क्षेत्र से संबंधित तकनीकियों के अनुसंधान की पहल करना और विकसित करना और उपग्रह प्रणालियों को प्राप्त करने के लिए आवश्यक आधारिक संरचना को स्थापित भी करना।
  • उपग्रह प्रणालियों की प्राप्ति के लिए निजी, सार्वजनिक क्षेत्र के उद्योगों को सक्रिय रूप से शामिल करना।
  • विश्वविद्यालय,कॉलेज और शिक्षाविदों को अनुसंधान और विकास क्रियाकलापों के साथ साथ लघु उपग्रहों के लिए विद्यार्थी समुदाय को अवसर प्रदान कर प्रचार और प्रोत्साहित करना।

लियोस का काम :

  • इसरो के लिओ, जियो, विज्ञान और अंतर उपग्रही मिशनों के लिए विभिन्न इलेक्ट्रो- प्रकाशिकी संवेदकों की अभिकल्पना, विकास, संविरचन, संयोजन, परीक्षण एवं सुपुर्दगी । इन संवेदकों में सौर संवेदक, भू-संवेदक, मेगनेटोमीटर, तारा संवेदक और इलेक्ट्रॉनिक पैकेजों की प्रक्रम शामिल है।
  • केंद्र विकासशील संवेदक तकनीकी विकास के क्रियाकलापों पर भी लक्ष्य साधे हुए है।
  • बढती हुई आवश्यकतों को ध्यान में रखते हुए, लिओस ने विक्रेता विकास में पहल की है और सौर संवेदकों का संविरचन, सयोजन और परीक्षण, भू-संवेदकों की स्कैनिंग और इलेक्ट्रॉनिक्स के प्रक्रम को सफलता पूर्वक आउट सोर्स किया है।
  • संवेदक के विकास, संविरचन और परीक्षण के लिए आवश्यक आधारभूत संरचना भी स्थापित किया है।