English
मुख्य विशयवस्तु में जाएं
Prof U R Rao Dr. Vikram Sarabhai
मुखपृष्ठ : यू.आर.यस.सी के बारे में गत अद्यतन: 12-Mar-2020

यू.आर.राव उपग्रह केंद्र ( यू.आर.यस.सी), बेंगलूरु

(जिसे पहले इसरो उपग्रह केंद्र (आईज़ेक) के नाम से जाना जाता था)

URSC Gateway डॉ. विक्रम ए साराभाई द्वारा स्थापित भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम अनुप्रयोग चालित है। "भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम का मौलिक सिद्धांत आम आदमी और समाज को लाभ पहुँचाना है।"

यू.आर.एस.सी. जो भारतीय उपग्रहों का घर है, द्वारा चार दशकों में निर्मित 100 से अधिक अत्याधुनिक उपग्रह, केंद्र द्वारा प्राप्त तकनीकी उत्कृष्टता का प्रमाण देता है। करीब 2500 उच्च प्रशिक्षित और सक्षम मानव संसाधन के साथ यू.आर.एस.सी. आज उन्नत, आधुनिकतम उपग्रह तकनीकियों से सुसज्जित है जो भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम को पोषित करता है। केन्द्र उपग्रहों के अत्याधुनिक अभिकल्प, विकास, संविरचन और परीक्षण सुविधाओं से भी सुसज्जित है। वर्तमान में केन्द्र भावी पीढ़ी के उच्च संचार, सुदूर संवेदी, नौवहन और अंतरिक्ष विज्ञान उपग्रहों के निर्माण के चुनौतिपूर्ण कार्य में संलग्न है। भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम के प्रवर्तक डॉ. विक्रम ए. साराभाई के सपनों के अनुसार हमारे राष्ट्र के आर्थिक विकास हेतु उपग्रह प्रणालियों का उपयोग किया जाता है।.